4 सप्ताह 4 काम और मोटापे obsity का काम तमाम

वैज्ञानिक शोधों से यह ज्ञात हुआ हैं कि यदि हम लगातार 4 सप्ताह तक किसी काम को अपनी दिनचर्या का अँग बना लेतें हैं तो यह आदत जीवनभर के लियें हमारी आदत बन सकती हैं । उदाहरण के लियें यदि हम पूरे चार सप्ताह सुबह ठीक 6 बजे उठनें की आदत बना ले तो यह हमारी दिनचर्या का अंग बन जायेगा ।
healthy lifestyle
 obesity


ठीक इसी तरह की आदत यदि हम खान पान व्यायाम आदि की बना लें तो यह आदत  जीवनपर्यंत बनी रहेगी ।


आज हम आपकी दिनचर्या में 4 सप्ताह तक ऐसी आदतों का समावेश करवायेंगें जिससे मोटापा कम करनें में मदद मिलेगी ।


पहला सप्ताह 



पहले सप्ताह में आपको अपनें खानपान पर नियत्रंण करना हैं । वह चीज जो फैट से भरपूर हैं और आपको प्रिय हैं उसको अपनें खानपान से बाहर निकालना हैं । यदि एकदम   से बिल्कुल
 बंद नही होती हैं  तो धीरें - धीरें मात्रा कम करतें जायें ।



सोडियम की अधिक मात्रा, ट्रांस फेट,उच्च वसा वालें पदार्थ,हाइड्रोजेनेटेड़ तेल , शक्कर मिश्रित वस्तुयें बाजार से लाना बंद कर दें । इसके बजाय फल सब्जी,अंकुरित अनाज ,दही,छाछ,दालें,मोटे अनाज,बादाम,मखानें,अखरोट आदि पदार्थ घर पर लेकर आयें ।


लगभग एकसाल बाद इस प्रयोग से आपके शरीर में गैर ज़रूरी वसा का जमाव बंद हो जायेगा और आप पहलें से अधिक कम वजन वालेें और ऊर्जावान बन जायेंगें ।





दूसरा सप्ताह





पहलें सप्ताह में बनाई आदत को निरंतर रखतें हुयें दूसरें सप्ताह में टहलनें और दोड़नें की शुरूआत करें । पहलें दिन दिन कम से कम एक एक किलोमीटर घूमनें से शुरूआत करते हुये सप्ताह के अंत तक पाँच किलोमीटर घूमनें का नियम बना लें ।


पाँच किलोमीटर घूमनें के दौरान अपनी सामर्थ्य अनुसार कुछ किलोमीटर दोडें भी ऐसा करनें से शरीर की अतिरिक्त चर्बी कम होना शुरू हो जायेगी ।



अगलें कुछ महिनें आपनें इस आदत को निरंतर रखा तो निश्चित रूप से आपका बहुत सारा वजन कम हो जायेगा ।





तीसरा सप्ताह



दूसरें हफ्ते और पहलें हफ्तें की आदत को निरंतर रखतें हुये तीसरें हफ्तें में एक दिन उपवास करें। 


भोजन करनें और दिनचर्या को व्यवस्थित करनें के लियें एक रूटीन फालों करें उदाहरण के लियें दिन का नाश्ता और भोजन सम्पूर्ण होना चाहियें जिसमें दाल,चावल,सब्जी सलाद आदि पर्याप्त मात्रा में हो और यह भोजन भरपेट हो ।



रात का भोजन सोनें से 3 घंटें पूर्व कर लेना चाहियें । यह भोजन दिन में कियें गये भोजन का एक तिहाई होना चाहियें । सूजी, खिचड़ी ,ओट्स जैसें खाद्य पदार्थ शाम के भोजन में होना चाहियें ।


देर रात होनें वाली शादी पार्टी में मीठा,तला हुआ खानें से बचें ।


 तैल में तलनें की बजाय भून कर खानें का प्रयास करें और दिन भर में 12 से 15 पन्द्रह गिलास पानी पियें ।





 चौथा सप्ताह 



पहलें दूसरे और तीसरें सप्ताह के कामों को नियमित रखतें हुये चौथे सप्ताह से कुछ संकल्प लें जैसे इन स्वस्थ्य आदतों को वजन कम होनें के बाद भी नही छोडूंगा । 


 आफिस से आनें के बाद टीवी और मोबाइल में अधिक समय नष्ट़ नही करूंगा बल्कि बच्चों के साथ कुछ ऐसे खेल खेलूंगा जो हाथ पाँवों को गतिशील रखतें हो ।


चार सप्ताह तक इन आदतों का समावेश कर आप अपनें शरीर को  मज़बूत,मोटापामुक्त और स्फूर्तिवान बना सकतें हैं ।



० बहेडा के बारें में जानें



० fitness के लिये सतरंगी खानपान




० अमरूद पाये जानें वाले पौषक तत्व




० बहेडा का वानस्पतिक नाम और फायदे




० एलर्जी क्या होती हैं





० चित्रक के फायदे




० गूलर के औषधीय उपयोग

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीकाकरण चार्ट [vaccination chart] और संभावित प्रश्न

Ayurvedic medicine Index [आयुर्वैदिक औषधि सूची]

एकीकृत पोषक तत्व प्रबंधन क्या हैं