सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

सितंबर, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन योजना क्या हैं?

 आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन योजना भारत सरकार द्वारा संचालित स्वास्थ्य क्षेत्र से संबंधित एक योजना हैं, जिसकी शुरुआत प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने 27 सितंबर 2021को की। आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के माध्यम से प्रत्येक नागरिक को उसके स्वास्थ्य से संबंधित एक यूनिक 14 अंको की आईडी उपलब्ध कराई जाएगी। इस यूनिक आईडी में व्यक्ति की सेहत से संबंधित सभी सूचनाएं दर्ज होगी उदाहरण के लिए • पिछली बार आप बीमार हुए थे तो आपने किस डाक्टर से परामर्श लिया था। • कोंन सी जांचें हुई थी। • कोंन सी दवाईयां चली थी।  • आपको कौंन सी दवाईयां की एलर्जी है आदि आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन योजना के लाभ क्या हैं?  • आयुष्मान भारत डिजिटल मिशन के अंतर्गत व्यक्ति के पास आधार कार्ड की तरह 14 अंको का कार्ड रहेगा जिसमें व्यक्ति की पूरी मेडिकल हिस्ट्री रहेगी । • आयुष्मान भारत डिजिटल कार्ड के आधार पर डाक्टर सिंगल क्लिक के माध्यम से व्यक्ति के पुराने पर्चों, जांच रिपोर्ट को देख सकेगा। • व्यक्ति को बार-बार अपनी पुरानी रिपोर्ट और पर्चें डाक्टर के पास ले जानें से मुक्ति मिलेगी। • दुर्घटना के दौरान बिना देरी के यूनिक आईडी के माध्य

उच्च रक्तचाप क्या हैं, कारण लक्षण और उच्च रक्तचाप का प्रबंधन

रक्तचाप शरीर की धमनियों, शरीर की प्रमुख रक्त वाहिकाओं की दीवारों पर रक्त परिसंचरण द्वारा लगाया जाने वाला बल है।  उच्च रक्तचाप तब होता है जब रक्तचाप बहुत अधिक होता है। रक्तचाप को दो  रूप में लिखा जाता है।  पहली (सिस्टोलिक) जो रक्त वाहिकाओं में दबाव का प्रतिनिधित्व करती है जब हृदय सिकुड़ता या धड़कता है।  दूसरी (डायस्टोलिक) संख्या वाहिकाओं में दबाव का प्रतिनिधित्व करती है जब हृदय धड़कन के बीच आराम करता है। उच्च रक्तचाप हैं इसका फैसला तब किया जाता है, जब इसे दो अलग-अलग दिनों में मापा जाता है, दोनों दिनों में सिस्टोलिक रक्तचाप रीडिंग 140 mmHg है और/या दोनों दिनों में डायस्टोलिक रक्तचाप रीडिंग ≥90 mmHg है। उच्च रक्तचाप के लिए जोखिम कारक क्या हैं? संशोधित जोखिम वाले कारकों में  • अस्वास्थ्यकर आहार  • अत्यधिक नमक का सेवन,   • संतृप्त वसा और ट्रांस वसा युक्त आहार • फलों और सब्जियों का कम सेवन,   •शारीरिक निष्क्रियता, • तंबाकू और शराब का सेवन और  • अधिक वजन या मोटापा शामिल हैं। • उच्च रक्तचाप का पारिवारिक इतिहास, • 65 वर्ष से अधिक आयु और मधुमेह या गुर्दे की बीमारी  उच्च रक्तचाप के सामान्य लक्षण

Nipah virus : निपाह वायरस के लक्षण

Nipah virus   एक तरह का आर.एन.ए. वायरस हैं जो फल खानें वाली चमगादड़ों की एक प्रजाति टेरोपस जींस में पाया जाता हैं ‌‌। निपाह वायरस paramyxovirinae सब फैमिली का वायरस हैं।    निपाह वायरस का नाम निपाह मलेशिया के गांव "निपा" के नाम पर पड़ा हैं, जहां पहली बार यह वायरस पाया गया था। मनुष्यों को संक्रमित करने के क्रम में निपाह वायरस को पहली बार चमगादड़ों द्वारा खाए गए अधूरे कच्चे खजूर फल से अलग किया गया था।  इसके बाद यह सुंअरो से मनुष्य में फैला था। Nipah virus first outbreak निपाह वायरस का प्रथम outbreak सन् 1998 में मलेशिया देखने को मिला था। इसके बाद यह सिंगापुर फैला था। मलेशिया में मनुष्यों में निपाह वायरस संक्रमण का कारण सुंअर थें। भारत और बांग्लादेश में पहली बार निकाह वायरस outbreak का कारण चमगादड़ों द्वारा खाया गया कच्चे खजूर का बना जूस था। निपाह वायरस चमगादड़ों से मनुष्य में कैसे फैला w.h.o.के अनुसार निपाह वायरस  फैलने के स्पष्ट प्रमाण मौजूद हैं w.h.o.के अनुसार जब मनुष्य के क्रियाकलापों से चमगादड़ों के प्राकृतिक आवास और भोजन प्रणाली समाप्त हुई तो चमगादड़ भूखे रहने लगे फलस्वरूप

Weight loss :: करनें की सबसे आधुनिक तकनीक ESG

Weight Loss करनें की सभी दवाईयां और weight loss diet chart आजमाने के बाद भी वजन कम नहीं होता हैं तो लोगों के सामने सर्जरी का  विकल्प मौजूद रहता हैं। लेकिन बहुत से लोग weight loss के लिए सर्जरी कराने से डरतें हैं।  ऐसे लोगों के लिए Weight loss करने की सबसे आधुनिक तकनीक  उपलब्ध हैं जिसे एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी या ESG कहते हैं। तो आईए जानतें हैं आज Weight Loss करनें की सबसे आधुनिक तकनीक के बारें में एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी या ESG क्या होती हैं एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी या ESG वज़न कम करने की सबसे आधुनिक तकनीक है। इस पद्धति में पेट पर बिना चीरा लगाएं एंडोस्कोप की मदद से पेट का आकार कम कर दिया जाता हैं।  एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी में पेट का आकार कम कर दिए जानें से शरीर की आवश्यकता अनुसार ही भोजन पेट में जाता हैं फलस्वरूप कम भोजन में ही पेट भर जाता हैं।  एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी को वज़न कम करने की आधुनिक तकनीक क्यों कहा जाता हैं एंडोस्कोपिक स्लीव गैस्ट्रोप्लास्टी में बिना चीरा और टांका लगाए व्यक्ति के पेट का आकार कम कर दिया जाता हैं। ESG में