सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

संदेश

जुलाई, 2021 की पोस्ट दिखाई जा रही हैं

टाप स्मार्ट हेल्थ गेजेट्स इन हिंदी। Top smart health gadgets

Top smart health gadgets।टाप स्मार्ट हेल्थ गेजेट्सस इन हिंदी  कोरोना काल में स्वास्थ्य सुविधाओं पर जितना दबाव पैदा हुआ उतना शायद किसी भी काल में नहीं पैदा हुआ है। लोगों को पेथालाजी लेब और अस्पतालों में सामान्य सी जांचो के लिए कई कई दिनों तक वेटिंग लिस्ट में रखा गया फलस्वरूप समय पर जांच नहीं होने के कारण उपचार शुरू नहीं हो सका और कई लोग काल के गाल में समा गए।  तो आईए जानते हैं वे कोंन से Top smart health gadgets हैं जिन्हें घर पर अवश्य रखना चाहिए ताकि समय रहते व्यक्ति अपनी जांच कर सकें और चिकित्सक से परामर्श कर उपचार शुरू हो सकें Wireless blood pressure monitor machine Wireless blood pressure monitor घर में रखना बहुत जरूरी है। जिन घरों में उच्च रक्तचाप, ह्रदयरोगी होते हैं वहां इसकी उपयोगिता बहुत बढ़ जाती है क्योंकि यह बहुत सटीकता के साथ ब्लड़ प्रेशर की जांच करता है।  आधुनिक तकनीक से बना होने के कारण इसमें व्यक्ति के रक्तचाप का इतिहास भी संग्रहित किया जा सकता हैं ताकि चिकित्सक व्यक्ति के blood pressure का इतिहास भी देख सकें। Wireless blood pressure monitor आपके एंड्रॉयड स्मार्टफोन और iOS

Health insurance लेने से पहले 13 सावधानी जरुर रखें

Health insurance कोविड़ महामारी के बाद हर व्यक्ति की जुबान पर यही शब्द हैं,और शायद आपने health insurance companies के Insurance advisor से इस बारें में बात भी की हो  लेकिन क्या आप जानते हैं,कोरोना के पीक के समय बहुत सी health insurance Company ने  अस्पताल में उपभोक्ताओं को corona कवर होते हुए भी बीमा सेटलमेंट या सेवा देने से इंकार कर दिया था । सोचिए जिस उपभोक्ता ने health insurance इस सोच के साथ लिया था कि वक्त जरुरत काम आएगा।  यदि उसके साथ health insurance Company इस प्रकार का व्यवहार करती हैं तो उसका और उसके परिवार का स्वास्थ्य फिर भगवान भरोसे ही हैं।  Health insurance Companies का इस तरह का व्यवहार देश में तब है जब यहां Insurance regulatory development authority IRDA जैसी नियामक संस्था मौजूद हैं ।  अतः हर वो व्यक्ति जो health insurance लेने की सोच रहा है health insurance लेने से पहले. उसको यह लेख जरूर पढ़ लेना चाहिए । 1.health insurance Company का उच्च दावा भुगतान रिकार्ड हो Health insurance लेनें से पहले health insurance Companies का दावा भुगतान रिकार्ड जरुर चेक करें।  यह जानकारी आ

अच्छे डाक्टर 💉💊🩺 की पहचान कैसे करें

अच्छे डाक्टर💉💊🩺 की पहचान कैसे करें Author - healthylifestyehome भारत में डाक्टर 🩺 को भगवान का रूप माना जाता है इसका कारण भी यही है कि सदियों से भारत में  वैद्य ने मरीज की भलाई को मुख्य ध्येय समझा जबकि अर्थ उपार्जन को सदैव दूसरे क्रम पर रखा यही कारण है कि भारत में आज भी डाक्टर भगवान का दूसरा रूप है।  डाक्टर को भगवान का दर्जा दिलवाने में हमारे देश के प्राचीन ऋषि मुनियों और आचार्य चरक, सुश्रुत जैसे  कुछ नामचीन निस्वार्थ सेवा भावी वैद्ययों का योगदान तो है ही स्वतंत्रता के बाद के काल में भी  कुछ मानवता के अग्रदूत चिकित्सकों ने  इस क्रम को आगे बढ़ाया है। भारत में चिकित्सक को भगवान का दर्जा मिलने के बाद भी दुनिया के सबसे ज्यादा डाक्टर और मरीजों के बीच विवाद भारत में ही होते हैं। अर्थात भारत डाक्टर और मरीज के बीच संबंधों के दृष्टिकोण से दुनिया के विकसित देशों से कहीं पीछे और यह तथ्य इसलिए पीड़ादायक हैं क्योंकि दुनिया के सबसेे अधिक प्रतिभाशाली डाक्टर भी भारत में ही पैदा होते हैं।  आईए जानते हैं हमारे प्राचीन ऋषि मुनियों और वैद्यों ने चिकित्सकीय पेशे को लेकर जो मूल्य निर्धारित किया है वह क्य

hand sanitizer side effects :: ज्यादा इस्तेमाल बीमार न बना दे

Hand sanitizer side effects   कोरोना आने के बाद से भारत समेत दुनिया भर में hand sanitizer का इस्तेमाल बहुत अधिक बढ़ गया है।  आजकल हर व्यक्ति मोबाइल की तरह ही हैंड सैनेटाइजर रखने लगे गया है। और सैनेटाइजर से हाथों को दिन में कई बार सैनेटाइज भी करता है।  लेकिन क्या आप जानते हैं अल्कोहल युक्त ये सैनेटाइजर अधिक मात्रा में इस्तेमाल करने से आपकी सेहत भी बिगाड़ सकतें हैं ?  तो आइए जानते हैं हैंड सैनेटाइजर का अधिक इस्तेमाल किन स्वास्थ्य समस्याओं का कारण बन सकता है  1.हैंड सैनेटाइजर से एलर्जी  सैनेटाइजर में इथाइल अल्कोहल का प्रयोग होता हैं यदि हम  दिन में कई बार सैनेटाइजर से हाथ सैनेटाइज करते हैं तो धीरे धीरे त्वचा का माश्चुराइजेशन संतुलन बिगड़ने लगता है और हाथ रूखे होने लगते हैं इस रुखेपन के कारण हाथों में खुजली,जलन और त्वचा फटने ओर उसमें से खून निकलने जैसी समस्या उभरती है और एक समय बाद त्वचा अल्कोहल के प्रति एलर्जिक हो जाती हैं। जिन लोगों को पहले से ही  एलर्जी की समस्या है यदि वे अल्कोहल युक्त सैनेटाइजर का अधिक इस्तेमाल करते हैं तो उन्हें अस्थमा,बार बार छींक आना, आंख और नाक से पानी आना जैसी श