गुरुवार, 10 मार्च 2016

निम्बू एक फायदे अनेक

निम्बू
 Lemon
                         
# परिचय::-

निम्बू विश्व के हरेक राष्ट्र में उगाया और उपयोग किया जानें वाला फल हैं. आयुर्वैद में इसको रहस्यमय औषधि के रूप में माना जाता हैं.इसके रस में विटामिन सी भरपूर मात्रा में पाया जाता हैं,इसके अलावा इसके छिलकों में उड़नशील तेल होता हैं.निम्बू अकेला न लेकर किसी पदार्थ जैसे पानी, खाद्य पदार्थ आदि में मिलाकर लिया जाता हैं.
निम्बू में प्रोटीन १ प्रतिशत ,वसा ०.९ प्रतिशत ,कार्बोहाइड्रेट ११.१ प्रतिशत, लोह तत्व ०.२६ प्रतिशत, कैल्सियम ७० मि.ग्राम,नियासिन ०.१ मि.ग्राम ,जल ८५ प्रतिशत तथा ऊर्जा लगभग ५७ कैलोरी होती हैं.

# उपयोग::-

१. कब्ज होनें पर दो चम्मच निम्बू रस तथा दो चम्मच शक्कर एक कप पानी में घोलकर रात को सोतें समय लेंनें से आराम मिलता हैं.
२.हिचकी होनें पर निम्बू के रस में काला रस मिलाकर सेवन करें.
३. निम्बू के छिलकों को सुखाकर उसमें काला नमक और सरसों का तेल मिलाकर मसूड़ों पर  लगानें से पायरिया में आराम मिलता हैं.
४. सिर में फुंसिया होनें पर निम्बू रस में बराबर मात्रा में सरसों तेल मिलाकर बालों की जड़ों में लगायें और एक घंटे बाद बालों को धो लें परन्तु शेम्पू का प्रयोग न करें.
५. कानों में दर्द होनें पर सरसों के तेल में १:२ में निम्बू रस मिलाकर उसे हल्का गर्म कर कानों में ड़ालें.
६. निम्बू एसीडीटी का दुश्मन माना जाता हैं, एसीडीटी होनें पर भोजन से आधा घंटे पहलें ठंडे पानी में पूरा निम्बू निचोड़कर पीनें से बहुत फायदा होता हैं.
७. किड़नी की पथरी होनें पर दिन में दो चार बार निम्बू रस पानी में मिलाकर पीना चाहियें.
८. निम्बू के पत्तियों का रस निकालकर फोड़े फुंसियों पर लगायें.
९.श्वेत प्रदर में निम्बू पत्तियों का रस योनि प्रक्षालन में उपयोग करें.
१०. बच्चों के पेट़ में कृमिं होनें पर दस बूंद निम्बू रस को पचास ग्राम दही में मिलाकर नियमित रूप से भोजन के बाद दें.
११. प्याज के रस और निम्बू रस को समान मात्रा में मिलाकर बालों में लगानें से बाल कालें चमकदार होकर असमय सफेद नहीं होतें हैं.
१२. मुलतानी मिट्टी में निम्बू रस मिलाकर चेहरे पर लगाते रहनें से झुर्रिया गायब हो जाती हैं.
१३.निम्बू का सेवन शरीर में पानी की कमी को दूर करता हैं,जिससे डिहाइड्रेशन से होनें वाली समस्याओं जैसें लू लगना,थकान,दस्त - उल्टी में आराम मिलता हैं.

वास्तव में निम्बू गुणों की खान हैं इसिलियें विद्धानों ने कहा भी हैं    सावन निम्बू सोने का   अर्थात सावन महिनें में निम्बू का सेवन सोनें जैसा लाभकारी हैं.





कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...