बुधवार, 11 सितंबर 2019

मुलेठी (mulethi) के अनसुने सेहत सुधारनें वाले उपयोग

*मुलेठी एक अनमोल औषधी*
☘☘☘☘☘☘☘☘☘☘☘



🌷 दोस्तो नमस्कार, मुलेठी की जडे ज्यादातर उपयोग मे लि जाती है जिनको *मुलेठी, मुलहठी, यष्टीमधु, जेढीमध* के नामसे भी जानां जातां है मुलेठी के चमत्कारीक फायदे जानने के लिये लेख पुरां पढे़. 

☘ *कफ- खांसी,गले मे खराश*☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ १ चम्मच मुलेठी का चूरन १ चम्मच शहद मे मिक्स करके सुबह नास्ते के बाद लिजिये | 

☘ *दिल के रोगो मे* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ १-१ चम्मच सुबह शाम गुनगुने पानी से  नास्तेके बाद लेने से काफी राहत मिलती है | 

☘ *फोडे- फुन्सी*☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ शहद के साथ मुलेठी का चुरन को मिक्स करके लगाने से ढिक होते है | 

☘ *लिवर के रोग* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ १ चम्मच सुबह खाने के बाद लेने से लिवर के रोगो से बचा जा सकतां है | 

☘ *खून बढा़ये* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ आधा ग्राम सुबह लेने से खून मे व्रृद्धि होती है | 

☘ *जलजाने पर* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ मुलहठी आैर चंदन को समान लेकर गायके धी के साथ मिलाकर लैप करने से जलन दूर होती है | 

☘ *खिल- मुंहासे* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ मुलेठी + चंदन को मिक्स करके गुलाबजल के साथ मिक्स करके लैप करने से खिल मुंहासे दूर होते है| 

☘ *मुंह कै छाले* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ १ चम्मच मुलेठी का चूरन सुबह १ कप दूध मे मिलाकर लिजिये एवं मुलेठी का चूरन को पानी मे डालकर मुंह मे भरकर कुल्ले करने से ढिक हो जाते है | 

☘ *पित्त वृद्धि* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ मुलहठी+ शतावर जड को बकरी के दूध या गायके दूध या गुनगुने पानी  के साथ लिजिये १ चम्मच सुबह -शाम | 

☘ *आंखो की रोशनी बठाने*☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ मुलेठी + शतावरजड  का चूरन मिक्स करके १ चम्मच चूरन +२ चम्मच गायका धी के साथ लेने से नंबर कम होता है रोशनी बढ़ती है | 

☘ *गांठ* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ हल्दी + मुलेठी + शहद को मिक्स करके लैप करने ये कीसी भी प्रकार की गांठ दूर होती है | 

☘ *ऐचआइवी-ऐड्स* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
☘ मुलेठी + अश्वगंधा+ शतावर जड का चूरन १ चम्मच सुबह शाम लेने से रोग प्रतिकार शकित बढ़ती है | 

☘ *पेट का अल्सर* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
⚛ सौंफबिज + गिलोय + मुलेठी को मिक्स करके सुबह शाम १-१ चम्मच लेने से पेट का अल्सर ठिक होता है | 

☘ *शुक्राणु की कमी* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
मुलेठी + अश्वगंधा + बबुल की फली + इनसे तिन गुनां मिश्री मिक्स करके सुबह शाम १-१ चम्मच दूध के साथ लेने से ताकत आती है , शुक्राणु मे व्रृद्धि होती है | 

☘ *वाइरल फिवर* ☘
〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰〰
मुलेठी + निम के पत्ते + हल्दी को मिक्स करके शहद के साथ १-१ चम्मच सुबह शाम लेने से फिवर दूर होतां है | 


० केले के औषधीय प्रयोग


० गिलोय के फायदे


० पलाश वृक्ष के औषधीय गुण


० पारस पीपल के औषधीय गुण


० पंचनिम्ब चूर्ण


० प्याज के औषधीय उपयोग


० तेल के हेरान कर देनें वाले फायदे



० अश्वगंधा



० लक्ष्मीविलास रस नारदीय के फायदे



० रूमेटाइड आर्थराइटिस


❇❇❇❇❇❇❇❇❇❇❇

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...