गुरुवार, 25 अगस्त 2016

निम्बादि चूर्ण

#निम्बादि चूर्ण :::


घट़क (content) :::


० नीम.

० हरड़.

० धात्री.

० बाकुची.

० सोंठ.

० वायविडंग.

० चक्रमर्द.

० पिपली.

० उग्रगंधा.

० जीरा.

० कुट़की.

० खदिर.

० सैंधा नमक.

० सर्जीखार.

० यवक्षार.

० दारूहल्दी.

० नागरमोथा.

० देवदारू.

० कूढ़.

#रोगाधिकार या निम्बादि चूर्ण के उपयोग :::


@ आमवात में इसका प्रयोग शहद या गर्म जल के साथ करते हैं.

@ कुष्ठ में इसे सेवन करने से कुष्ठ जड़ से समाप्त हो जाता हैं.

@ सफेद दाग शरीर पर हो तो इसका प्रयोग गोमूत्र के साथ करें.

@ पीलिया रोग में इसका उपयोग पुनर्नवा के साथ करें.
@ यदि बार बार शरीर पर फोड़े निकलते हो तो गुडुची क्वाथ के साथ इस्तेमाल करें.

@ शरीर पर सूजन आने पर इसका उपयोग महारास्नासप्तक क्वाथ के साथ होता हैं.

@ खुजली होनें पर अश्वगंधा चूर्ण के साथ मिलाकर सेवन करें.

@ बुखार और टाइफाइड़ में इसे गर्म दूध के साथ लेनें पर विशेष आराम मिलता हैं.

मात्रा :::


वैघकीय परामर्श से.



० नीम के औषधीय उपयोग


० पारस पीपल के औषधीय गुण


० पंचनिम्ब चूर्ण



० गौमुखासन



० बरगद पेड़ के फायदे




० फिटनेस के लिये सतरंगी खान पान




० निर्गुण्डी के फायदे




० शास्त्रों में लिखे तेल के फायदे

कोई टिप्पणी नहीं:

Laparoscopic surgery kya hoti hai Laparoscopic surgery aur open surgery me antar

Laparoscopic surgery kya hoti hai लेप्रोस्कोपिक सर्जरी सर्जरी की एक अति आधुनिक तकनीक हैं। जिसमें सर्जरी के लिए बहुत बड़े चीरें की जगह ...