रविवार, 27 नवंबर 2016

Donate for better world

पूरी दुनिया में भारत सहित विकासशील राष्ट्रों के गरीब नागरिक बेहतर स्वास्थ सेंवाओं के लियें प्रतीक्षारत हैं.बेहतर स्वास्थ सेंवाएँ मात्र प्रायवेट अस्पतालों में उपलब्ध हैं,जो इन गरीबों के बस की बात नहीं हैं,फलस्वरूप ये गरीब अकाल मोंत के आगोश में समा जातें हैं,एक सर्वे के मुताबिक लगभग 63% कैंसर,एड्स, टी.बी.ह्रदय रोग और अन्य रोगों के मरीजों के पास दवाईयों के लियें पैसें नही होतें दवाईयों की उपलब्धता में इनका सबकुछ बिक जाता हैं ,आईयें  इन ज़रूरतमंद लोगों के साथ खड़े होकर इनकी तक़लीफों को कम करने में उनकी मदद करें.यदि आप मदद करना चाहतें हैं,तो सम्पर्क करें.

Email - svyas845@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...