सोमवार, 27 जुलाई 2015

SEX POWER AND AYURVEDA



आजकल की भागती दोड़ती जीवनशैली में व्यक्ति दिन भर काम करते-करते इतना थक जाता हैं, कि उसे अपने निजी सम्बंधों का सुख उठाने की ताकत ही नहीं बचती,फलस्वरूप पारिवारिक जीवन तनावों से घिर जाता हैं.इस पृकार की परिस्थितियों में व्यक्ति आत्महत्या तक कर लेता हैं .
आयुर्वैद ने हजारों वषों से व्यक्ति के जीवन को सदैंव मुश्किलों से उबारा हैं,और आज भी इस दिशा में पृयत्नशील हैं. आईयें जानते हैं उपचार-::

१.अश्वगंधा चूर्ण ,बबूल का गोदं,बबूल की फली,केसर,मुलेठी,धायफूल,कोंच बीज को विशेष अनुपात मे मिलाकर सेवन करनें से से केसा भी नामर्द हो चार माह मे मर्द बन जाता हैं.
२.अश्वगंधा तेल,महामाष तेल को मिलाकर सुबह शाम लिंग पर मालिश करने से व्यक्ति पारिवारिक जीवन का पूर्ण आनंद लेने के योग्य हो जाता हैं .
नोट-:वैघकीय परामर्श आवश्यक हैं.
शिलाजित के बारें में जानियें
Svyas845@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...