सीधे मुख्य सामग्री पर जाएं

morning motivation WhatsApp post in hindi

1*ऐ परिंदे!!*
*यूँ ज़मीं पर बैठकर क्यों*
*आसमान देखता है..*
*पंखों को खोल, क्योंकि,*
*ज़माना सिर्फ़ उड़ान देखता है !!*


*लहरों की तो फ़ितरत ही है*
*शोर मचाने की..*
*लेकिन मंज़िल उसी की होती है, जो नज़रों से तूफ़ान* *देखता है !!

2#.*वो '' दोस्त '' मेरी नजर में बहुत '' मायने  " रखते है .*
*जो सही वक्त पर मेरे*
*सामने ''आईने '' रखते है*

3#.*जिव्हा पर विराम लगाकर देखिए*
*क्लेश का कारवाँ गुज़र जाएगा*

*इच्छाओं को थोड़ा घटाकर देखिए*
*खुशियों का संसार नज़र आएगा*

     
4#.*मंगलमय-सुप्रभात* 🙏🌹🙏🙏 *जयहाटकेश-जयमहाकाल-जयगजानंद-ऊँसुर्यायनम:* 🌹🙏
*आर्थिक स्थिति कितनी भी अच्छी हो,*
                 *परन्तु*-
 *जीवन का आनंद तो मानसिक*
        *स्थिति पर निर्भर है।*

             *!! जयहिंद !!*

5#.*_*_जिस रफ्तार से तू निकल रही है ना जिदंगी_*

*_एक चालान तो तो तेरा भी बनता है_*

6#.
*जिन्दगी की तपिश को सहन किजिए, अक्सर वे पौधे मुरझा जाते हैं, जिनकी परवरिश छाया में होती है !*

7#.
*केवल समय ही अपना है, अगर वो सही है तो सभी अपने हैं वरना कोई अपना नहीं है!*
🌞🌞सुप्रभात🌞🌞

8#.
*जो दिल में हो उसे कहने का साहस रखो, जो दूसरों के दिल में हो उसे समझने की समझ रखो।*
🌞🌞सुप्रभात🌞🌞

9#.
-------------------------------------   🙏🏼
*कुछ हँसकर बोल दो कुछ हँसकर टाल दो,*

*परेशानियाँ तो बहुत हैं,कुछ वक़्त पर डाल दो।*

10#.🌞🚩 *मंगलमय-सुप्रभात* 🚩🌞
🙏🏻🌺 *जयहाटकेश-जयमहाकाल-जयशनिदेव-जयहनुमान* 🌺🙏🏻
👇🏽👇🏽 *ध्यान रखें* 👇🏽👇🏽
*कोई साथ हो या ना हो,पर*

*याद रखो प्रभु हमेशा हमारे साथ है !!*🙏🏻🌺
🙏🏻🥁

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

टीकाकरण चार्ट [vaccination chart] और संभावित प्रश्न

 टीकाकरण चार्ट # 1.गर्भावस्था के समय टीकाकारण ::: गर्भावस्था की शुरूआत में Titnus का पहला टीका टी.टी - 1. टी.टी -1 के चार सप्ताह बाद टी.टी.-2 यदि पिछली गर्भावस्था में टी.टी - 2 दिया गया हैं,तो केवल बूस्टर दीजिए. ० गर्भावस्था के प्रथम तीन महिनें मे किए जानें वाले योगासन # टीके की मात्रा ,कैसें और कहाँ दें 0.5 ml.मात्रा प्रशिक्षित व्यक्ति द्धारा ऊपरी बांह की मांसपेशी में. # महत्वपूर्ण गर्भावस्था के 36 सप्ताह हो गयें हो तो मात्र टी.टी.- बूस्टर देना चाहियें.  टीकाकरण का दृश्य # 2.शिशुओं के लियें टीकाकरण  #जन्म के समय ::: 1. B.C.G.  =     0.1 ml बाँह पर त्वचा के निचें. 2.हेपेटाइटिस बी.=  0.5 ml मध्य जांघ के बाहरी हिस्सें पर मांसपेशी में 3.o.p.v.या oral polio vaccine = दो बूँद मुहँ में . ///////////////////////////////////////////////////////////////////////// ० आँखों का सूखापन क्या बीमारी हैं ? जानियें इस लिंक पर ०  जानिये पोलियो क्या होता हैं ? ० चुम्बक चिकित्सा के बारें में जानें ० बच्चों की परवरिश कैसें करें healthy parating

गेरू के औषधीय प्रयोग

गेरू के औषधीय प्रयोग गेरू के औषधीय प्रयोग   आयुर्वेद चिकित्सा में कुछ औषधीयाँ सामान्य जन के मन में  इतना आश्चर्य पैदा करती हैं कि कई लोग इन्हें तब तक औषधी नही मानतें जब तक की इनके विशिष्ट प्रभाव को महसूस नही कर लें । गेरू भी उसी श्रेणी की  आयुर्वेदिक औषधी हैं । जो सामान्य मिट्टी से कही अधिक इसके विशिष्ट गुणों के लियें जानी जाती हैं । गेरू लाल रंग की की मिट्टी होती हैं जो सम्पूर्ण भारत में बहुतायत मात्र में मिलती हैं । इसे गेरू या सेनागेरू भी कहतें हैं । गेरू आयुर्वेद की विशिष्ट औषधी हैं जिसका प्रयोग रोग निदान में बहुतायत किया जाता हैं । गेरू का संस्कृत नाम  गेरू को संस्कृत में गेरिक ,स्वर्णगेरिक तथा पाषाण गेरिक के नाम से जाना जाता हैं । गेरू का लेटिन नाम  गेरू   silicate of aluminia  के नाम से जानी जाती हैं । गेरू की आयुर्वेद मतानुसार प्रकृति गेरू स्निग्ध ,मधुर कसैला ,और शीतल होता हैं । गेरू के औषधीय प्रयोग 1. आंतरिक रक्तस्त्राव रोकनें में गेरू शरीर के किसी भी हिस्से में होनें वाले रक्तस्त्राव को कम करने वाली सर्वमान्य औषधी हैं । इसक

पारस पीपल के औषधीय गुण

पारस पीपल के औषधीय गुण Paras pipal KE ausdhiy gun ::: पारस पीपल के औषधीय गुण पारस पीपल का  वर्णन ::: पारस पीपल पीपल वृक्ष के समान होता हैं । इसके पत्तें पीपल के पत्तों के समान ही होतें हैं ।पारस पीपल के फूल paras pipal KE phul  भिंड़ी के फूलों के समान घंटाकार और पीलें रंग के होतें हैं । सूखने पर यह फूल गुलाबी रंग के हो जातें हैं इन फूलों में पीला रंग का चिकना द्रव भरा रहता हैं ।  पारस पीपल के  फल paras pipal ke fal खट्टें मिठे और जड़ कसैली होती हैं । पारस पीपल का संस्कृत नाम  पारस पीपल को संस्कृत  में गर्दभांड़, कमंडुलु ,कंदराल ,फलीश ,कपितन और पारिश कहतें हैं।  पारस पीपल का हिन्दी नाम  पारस पीपल को हिन्दी में पारस पीपल ,गजदंड़ ,भेंड़ी और फारस झाड़ के नाम से जाना जाता हैं ।   पारस पीपल का अंग्रजी नाम Paras pipal ka angreji Nam ::: पारस पीपल का अंग्रेजी नाम paras pipal ka angreji nam "Portia tree "हैं । पारस पीपल का लेटिन नाम Paras pipal ka letin Nam ::: पारस पीपल का लेटिन paras pipal ka letin nam नाम Thespesia