मंगलवार, 14 नवंबर 2017

Ayurvedic Index [आयुर्वैदिक औषधि सूची]

#1.नव ज्वर की औषधि और अनुसंशित मात्रा :::

१.त्रिभुवनकिर्ती रस  :::::   १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.संजीवनी वटी       :::::    १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.गोदन्ती मिश्रण.    :::::     १२५ से २५० मि.ग्रा.

#2.विषम ज्वर :::


१.सप्तपर्ण घन वटी  :::::    १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.सुदर्शन चूर्ण.        :::::     ३ से ६ ग्रा.

# 3 वातश्लैष्मिक ज्वर :::


१.लक्ष्मी विलास रस.  :::::  १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.संशमनी वटी          :::::  ५०० मि.ग्रा से १ ग्रा.

# 4 जीर्ण ज्वर ::::


१. प्रताप लंकेश्वर रस.  :::::  १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.महासुदर्शन चूर्ण.     :::::   ३ से ६ ग्राम

३.अमृतारिष्ट              :::::    २० से ३० मि.ली.

# 5.सान्निपातिक ज्वर ::::


१.नारदीय लक्ष्मी विलास रस. :::::  २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.भूनिम्बादि क्वाथ.      ::::: १०से २० मि.ली.

#6 वातशलैष्मिक ज्वर ::::


१.गोजिह्यादि क्वाथ.      ::::: २० से ४० मि.ली.

२.सितोपलादि चूर्ण.       ::::: ३ से ५ ग्राम

३.कणटकार्यावलेह.       :::::: ५ से १० ग्राम



#############################################  

यह भी पढ़े 👇👇👇

#7. कफ निस्सारक :::


१.टंकण भस्म.            :::::  ५०० मि.ग्रा से १ ग्रा.

२.तालिसादी चूर्ण.       :::::: ३ से ५ ग्राम

३.वासावलेह.              :::::: ५ से १० ग्राम

# 8.श्वसनिका शोध :::::


१.लघुमालिनी बसंत रस. :::::      १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.लवंगादि चूर्ण.            :::::    ३ से ५ ग्राम

३.चौंसठ प्रहरी पीपल. :::::   ५०० मि.ग्रा से २ ग्रा.


#9.राजयक्ष्मा :::::


१.राजमृगांक रस  ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.स्वर्ण बसंत मालती रस ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.अभ्रक भस्म (शतपुटी) ::::: ०.७५ से १२५ मि.ग्रा.

४.मुक्तापंचामृत.            :::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

५.शिलाजत्वादि लौह.     :::::  २५० से ५०० मि.ग्रा.


°● ये भी पढ़े

● सेहत की abcd

#10.प्रतिश्याय :::::


१.हिंगुलेश्वर रस.  ::::: १२५ स् २५० मि.ग्राम

२. पंचकोल चूर्ण. ::::: २ से ५ ग्राम

#11.पीनस :::::


१.षड़बिन्दु तेल.    :::::: २ से ५ बूंद नस्यार्थ 

२.दशमूव रसायनम्  ::::: ५ से १५ ग्राम

#12.तुण्ड़ीकेरी शोथ :::::


१.क्षारमधु                :::::  गले में स्थानिक प्रयोग

२.खदिरादि वटी        ::::: २ से ४ गोली

३.व्योषादि वटी         ::::: २ से ४ गोली

#13.श्वास :::::


१.धान्वंतर गुटिका     ::::: १ से २ गोली

२.पुष्करमूल चूर्ण.      ::::: ५ से १५ ग्राम

३.श्रृंग्यादि चूर्ण.         ::::: ५ से १५ ग्राम

४.कनकासव.           ::::: १० से ३० मि.ली.

५.वासारिष्ट              ::::: १० से ३० मि.ली.


#14.ह्रदय रोग :::::


१.नागार्जुननाभ्र रस.   ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.मुक्तापिष्टी              ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३. प्रवालपिष्टी            ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

४.अर्जुनारिष्ट़             ::::: १० से ३० मि.ली.


#15.रक्तचाप :::::


१.प्रवालपिष्टी           ::::::  १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.सर्पगंधा घन वटी  :::::: २ से ४ गोली


#16 रक्तभार अल्पता :::::


१.मकरध्वज गुटिका ::::: ५० से १२५ मि.ग्रा.

२.कस्तूरी भैरव रस. ::::: ५० से १२५ मि.ग्रा.

#17.ह्रच्छूल :::::


१.श्रृंग भस्म.         ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.महावातराज रस ::::: ७५ से १२५ मि.ग्रा.

#18.पाण्डु :::::


१.पुनर्नवादि मण्डूर ::::: ०.५ से १ ग्रा.

२.लोहासव.           ::::: १० से ३० मि.ग्रा.

#19.रक्तपित्त / रक्तस्त्राव :::::


१.तृणकान्तमणि पिष्टी  :::::  २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.लाक्षादि चूर्ण.           :::::  ५ से १० ग्रा.

३.उशीरासव.               :::::  १५ से ३० मि.ली.

# 20.रक्तदुष्टि :::::


१.निम्बादि क्वाथ.        ::::: २० से ४० मि.ली.

२.पंचनिम्ब चूर्ण           ::::: ५ से १० ग्रा.

३.मंजिष्ठादि चूर्ण.        ::::: ५ से १५ ग्रा.

४.सारिवाघासव.         ::::: १५ से ३० मि.ली.

५.खदिरारिष्ट               ::::: १५ से ३० मि.ली.



#21.अतिसार :::::


१.कर्पूर रस.             ::::: ५० से १२५ मि.ग्रा.

२.जातिफलादि चूर्ण. ::::: ५ से १० ग्रा.

३.कर्पूरासव.            ::::: १० से २० बूँद

४.बब्बूलारिष्ट           ::::: १५ से ३० मि.ली.

#22.प्रवाहिका :::::


१.पंचामृत पर्पटी      ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.बिल्वादि चूर्ण.      ::::: ५ से १० ग्राम

३.बिल्वादि क्वाथ.    ::::: २० से ४० मि.ली.

४.कुटजारिष्ट            ::::: १५ से ३० मि.ली.


# 23.अम्लपित्त :::::

१.कामदुधा रस.        ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.धात्री रसायन.       ::::: ५ से १५ ग्राम

३.मधुयष्टयादि चूर्ण.  ::::: ५ से १० ग्राम

४.अविपत्तिकर चूर्ण. ::::: ५ से १० ग्राम
ग्राम


# 24.संग्रहणी :::::


१.शंखोदर रस.       ::::: ७५ से १५० मि.ग्रा.

२.सूतशेखर रस.     ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.बिल्वादि अवलेह. ::::: ५ से १० ग्रा.

४.मोचरस चूर्ण.       ::::: ३ से ५ ग्रा.


#25.यकृत रोग :::::


१.आरोग्यवर्धनी वटी   ::::: ५०० मिग्रा से १ ग्राम

२.नवायस लोह.         ::::: २५० से ५०० मिग्रा

३.फलत्रिकादि क्वाथ. ::::: १५ से ३० मि.ली.

४.शर्बतफालसा         ::::: ३० से ५० मि.ली.

५.दारूहरिद्राफल चूर्ण ::::: ५ से १० ग्राम

६.रोहितकारिष्ट          ::::: १५ से ३० मि.ली.


# 26.शूल :::::


१.शंख भस्म.            ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.शंख वटी              ::::: २ से ४ वटी

३.लहसुनादि वटी      ::::: २ से ४ वटी

४.हिंगु वचादि चूर्ण.   ::::: ३ से ५ ग्रा.

५.नारिकेल लवण.    ::::; १ से २ ग्रा.


#27 आध्यमान :::::


१.कांकायन वटी      ::::: ५०० मिग्रा से १ ग्रा.

२.हिंग्वाष्टक चूर्ण.     ::::: ३ से ५ ग्रा.

३.अर्क अजमोद.      ::::: ५ से १५ मि.ली.

४.लवण भास्कर चूर्ण ::::: ५ से १० ग्रा.


#28 छर्दि :::::


१.मयूरपिच्छ भस्म    ::::: ५० से १२५ मि.ग्रा.

२.बिल्वादि लेहम.     ::::: १ से ३ ग्रा.

३.एलादि चूर्ण.         ::::: ५ से १० ग्रा.


#29.अजीर्ण :::::


१.यवानी षांड्व चूर्ण  ::::: ५ से १० ग्रा.

२.शिवाक्षार पाचन चूर्ण ::::: ३ से ५ ग्रा.

३.चित्रकादि वटी          ::::: २ से ४ वटी


# 30.अग्निमांध :::::


१.अग्नितुण्डी वटी      ::::: २५० से ५०० मि ग्रा

२.वैश्वानर चूर्ण.          ::::: ३ से ५ ग्रा.

३.पंचकोल चूर्ण.        ::::: ३ से ५ ग्रा.


#31 विबंध :::::


१.इच्छाभेदी रस.     ::::: १२५ से ५०० मि.ग्रा.

२.पंचसकार चूर्ण.    ::::: ५ से १० ग्राम

३.स्वादिष्ट विरेचन चूर्ण ::::: ५ से १० ग्रा.

४.अभयारिष्ट.              ::::: १५ से ३० मि.ली.

५.ईसबगोल.                ::::: १० से २० ग्रा.

६.हरीतकी चूर्ण.           ::::: ५ से १० ग्रा.



#32.अर्श - भगंदर :::::


१.शिग्नु गुग्गल.           ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा

२.बोलबद्ध रस.           ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.प्राणदा वटी             ::::: २ से ४ गोली

४.रसांजन वटी            ::::: ५०० मि ग्रा से १ ग्रा

५.कासीसादि तेल.      ::::: २ से ५ मि.ली.

६.जयावटी                 ::::: २५० से ५०० मिग्रा


# 33.कृमिरोग :::::


१.विड़ंगादि लौह           ::::: ५०० मि.ग्रा से १ ग्रा

२.पलाशबीज चूर्ण         ::::: ३ से ६ ग्रा

३.कम्पिलक योग.         ::::: ५ से १० ग्रा.


# 34.मस्तिष्क रोग :::::


१.ब्राम्ही वटी               ::::: २ से ४ गोली

२.तंगरादि चूर्ण.           ::::: ३ से ५ ग्रा

३.ब्राम्ही रसायन.         ::::: ५ से १० ग्रा.

४.सारस्वतारिष्ट.          ::::: १५ से २० मि.ग्रा.

५.ब्राम्ही घृत                ::::: ५ से १० ग्राम


# 35.नाड़ी दौर्बल्य :::::


१.कृष्ण चतुर्मुख रस.     ::::: १२५ से ५०० मि.ग्रा.

२.धान्वन्तर तेल.           ::::: अभ्यंगार्थ

३.महानारायण तेल.    :::::  अभ्यंगार्थ

४.एरण्ड़ पाक.            ::::: ५ से १५ ग्रा.

५.बलारिष्ट                  ::::: १० से ३० मि.ली.


#36.कम्पवात :::::


१.चतुर्भुज रस.          ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.कौंच बीज चूर्ण.     ::::: २ से ५ ग्रा.


#37.सिरशूल :::::


१.सिरसूलादि वज्र रस. ::::: २५० मि.ग्रा से १ ग्रा

२.चन्द्रकान्त रस.         ::::: १२५ से २५० ग्रा.

३.पथ्यादि क्वाथ.        ::::: १० से २० मि.ली.

४.गोदन्ती प्रवाल योग  ::::: १० से २० मि.ली.


#38.पक्षाघात :::::


१.योगेन्द्र रस.           ::::: १२५ मि.ग्रा.

२.क्षीरबला तेल.        ::::: अभ्यंगार्थ

३.क्षीरबला तेल आवर्ती ::::: ५ से ४० बूँद पानार्थ


#39.अनिद्रा :::::


१.निद्रोदय रस.         ::::: १२५ से ५०० मि.ग्रा.

२.जटामासी क्वाथ.   ::::: १० से २० मि.ली.

३.मदनानंद मोदक.    ::::: ५ से १५ ग्रा.

४.अश्वगंधा चूर्ण.        ::::: ५ से १० ग्रा.


# 40.आक्षेपक :::::


१.स्वर्ण भस्म.           ::::: १५ से २५ मि.ग्रा.

२.पंचगव्य घृत.      ::::: ५ से १५ मि.ली.

३.अपतंत्रकारि वटी ::::: १२५ से २५० ग्राम


#42.उन्माद :::::


१.उन्मादि गजकेशरी     ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.महापैशाचिक घृत.     ::::: ५ से १५ ग्राम

३.महाचैतस घृत.          ::::: ५ से १५ ग्रा.

४.मानस मित्र वटक.     ::::: १२५ से २५० मिग्रा

# 43.विषाद :::::


१.ज्योतिष्मती तेल.     ::::: १० से २० बूँद

२.स्मृति सागर रस.      ::::: १२५ से २५० मिग्रा

३.शुद्ध वचा चूर्ण.        ::::: १२५ मि ग्रा


#44.आमवात :::::


१.आमवातारि रस.      ::::: १२५ से २५० मिग्रा

२.त्रयोदशांग गुग्गल.    ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा

३.कोट्टचुक्कादि तेल.  ::::: स्थानिक प्रयोग


# 45.वातरक्त ::::


१.कैशोर गुग्गल.      ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम

२.महारास्नादि क्वाथ ::::: ५ से १५ मि.ली.

३.पिण्ड़ तेल.            ::::: स्थानिक प्रयोग


# 46.संधिवात :::::


१.सिंहनाद गुग्गल.     ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम

२.योगराज गुग्गल.     ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम

३.पंचगुण तेल.          ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

४.वातारि गुग्गल.       ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम

५.समीरगज केशरी रस ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

६.महाविषगर्भ तेल.      ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ


# 48 अल्पमूत्रता :::::


१.पुनर्नवाष्टक क्वाथ.   :::::  20 से 40 मि.ली.

२.पनविरलादि भस्म.   ::::: ५ से २० ग्राम

३.पुनर्नवासव.            ::::: १५ से ३० मि.ली.


#49.अश्मरी :::::


१.पाषाण भेदादि क्वाथ. ::::: २० से ४० मि.ली.

२.हजरल यहूद भस्म.     ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा

३.कुलत्थादि घृत.           ::::: १० से २० मि.ली.

४.वरूणादि गुग्गल.        ::::: ५०० मि ग्रा से १ ग्रा

५.शिलाजित्वादि वटी     ::::: ५०० मि ग्रा से १ ग्रा

६.पुनर्नवादि गुग्गल.       ::::: ५०० मि ग्रा से १ ग्रा



# 50.वृक्कशोथ :::::


१.सर्वतोभद्र रस         ::::: ५० से ५०० मि.ग्रा.

२.वीरतरादि क्वाथ.    ::::: २० से ४० मि.ली.

३.तृण पंचमूल क्वाथ  ::::: २० से ४० मि.ली.

४.कन्मद भस्म.         ::::: ५०० मि ग्रा से १.५ ग्रा

५.वस्त्यामयान्तक घृत ::::: ५ से १५ ग्राम


# 51.मूत्रकच्छ :::::


१.स्वर्ण वंग.            ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.चन्द्रकला रस.      ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

३.त्रिकण्टकादि क्वाथ ::::: ४० मि.ली.


#52.कुष्ठ :::::


१.रस माणिक्य         ::::: १२५ से १५० मि.ग्रा.

२.गन्धक रसायन.     ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

३.एलादि तेल.          ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

४.कुष्ठराक्षस तेल.      ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ


# 53.त्वककाष्णय :::::


१.कुंकुमादि तेल.         ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

२.दंशाग लेप.             ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ


#54.कण्डू :::::


१.हरिद्राखण्ड़            ::::: ५ से १५ ग्राम

२.बिल्वादि गुटिका     ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

३.नाल्पामरादि तेल.    ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

४.महामरिच्यादि तेल.  ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ


#55.त्वकवैवर्ण्य :::::


१.चालमोंगरा तेल.     ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

२.सिध्महर तेल.        ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

३.मार्कव रसायनम्    ::::: १० से २० ग्रा.


#56. केश ::::


१.भृंगराज तेल        ::::: बालो पर प्रयोगार्थ

२.धस्तूरपत्र केर तेल ::::: बालो पर प्रयोगार्थ

३.दूर्वादिकेर तैल.    ::::: बालो पर प्रयोगार्थ

४.कच्युन्यादि केर तेल ::::: बालो पर प्रयोगार्थ

५.नीली भृंग्यादि केर तेल :::: बालो पर प्रयोगार्थ

६.कृन्तल कांति तेल.       ::::: बालो पर प्रयोगार्थ


#57.श्वेत कुष्ठ :::::


१.काकोदुम्बरिकादि क्वाथ. ::::: १० से ४० मि.ली.

२.मार्कव तेल.                    :::::: ५ से १५ ग्रा.

३.अवल्गुजादि लेप.           :::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

४.गोमूत्रारिष्ट.                    ::::: १० से २० मि.ली.


#58.श्वेत प्रदर :::::


१.प्रदरांतक रस    ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.पत्रंगासव.  ::::: १० से ३० मि.ली.

३.लोध्रासव.      ::::: १० से ३० मि.ली.

४.अशोकारिष्ट    ::::: १० से ३० मि.ली.

५.कुक्टाण्डत्वक भस्म ::: १ से ५०० मि ग्रा

६.पुष्यानुग चूर्ण.  ::::: ५ से १० ग्रा.

७.सुपारी पाक.   ::::: ५ से १५ ग्रा.

८.शतावरी गुड़   ::::: ५ से १५ ग्रा.

९.पंचपंचवल्कय क्वाथ ::::: योनि प्रक्षालनार्थ


#59.रज:कृच्छ :::::


१.रज: प्रवर्तनी वटी   ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.कुमारिका वटी       ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

३.कुमार्यासव.          ::::: १० से ३० मि.ली.



# 60.योनिव्यापद :::::


१.शुभंकरी वटी        ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम

२.सोमनाथ रस.       ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.सौभाग्यवर्धन तेल ::::: योनिपिचु


# 61.रज: पूर्व तनाव :::::


१.यवक्षार योग       ::::: ५०० मि.ग्रा. से १.५ ग्रा.

२.सप्तसारम् कषायम ::: १० से २० मि.ली.


#62.गर्भपात :::::


१.गर्भपाल रस.    :::::  २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.गर्भ रक्षिणी गुटिका ::: २ से ४ गोली



#63.रक्तलायोनि :::::


१.कहरूवा पिष्टी            ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा

२.अशोक घृत.               ::::: ५ से १५ ग्राम

३.लक्ष्मणा लौह.            ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम


#64.स्तन्याल्पता :::::


१.स्तन्यजनन कषाय.      ::::: १० से २० मि.ली.

शतावर्यादि चूर्ण.            ::::: ५ से १० ग्रा.


#65 सूतिका रोग :::::


१.सौभाग्य शुण्ठी       ::::: ५ से १० ग्रा.


२.दशमूलारिष्ट              :::::  १५ से ३० मि.ली.


#66.बन्ध्यत्व :::::


१.फलकल्याण घृत.     ::::: ५ से १५ ग्राम

२.पलाशपुष्पासव.       ::::: १५ से ३० मि.ली.

३.लक्ष्मणारिष्ट            ::::: १५ से ३० मि.ली.

४.पुष्पधन्वा रस.         ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.



#67.बीजकोष :::::


१.त्रयोदशांग गुग्गल.       ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा

२.शोभांजनारिष्ट             ::::: १० से ३० मिली

३.पुनर्नवामण्डूर.             ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.


# 68. बाजीकरण :::::


१.मन्मथ रस.              :::::: १२५ से ५०० मि.ग्रा.

२.अकरकरभादि गुटिका ::::: १ से २ गोली

३.अश्वगंधादि लेहयम.     ::::: ५ से १५ ग्रा.

४.शुक्रस्तम्भन रसायन.    ::::: ५ से १५ ग्राम

५.श्री गोपाल तेल.            ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

६.कामिनीविद्रावणरस       ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.


#69. रसायन ::::::


१. ब्राम्ह रसायन              ::::::  ५ से १५ ग्राम

२.च्वनप्राश अवलेह.         ::::: ५ से १५ ग्रा.

३.बृहणी गुटिका               ::::: १ से २ गोली


#70.व्रणरोपक :::::


१.जात्यादि तेल.              ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.मर्म गुटिका                  :::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

३.त्रिफला गुग्गल.             ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

४.यशद मलहर.               ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ

५.मंजिष्ठादि तेल.            ::::: स्थानिक प्रयोगार्थ


#71.नेत्ररोग :::::


१.सप्तामृत लौह.          ::::: २ से ४ गोली

२.महात्रिफलाघृत.        ::::: ५ से १० ग्राम

३.चन्द्रोदयवर्ति             ::::: अाँख में प्रयोगार्थ

४.एलनीर कुषम्पु          ::::: २ से ५ बूँद

५.शतपत्रयार्क             ::::: २ से ५ बूँद


#72.नासारोग :::::


१.अणु तेल.              ::::: २ से ५ बूँद नस्या्र्थ

२.नासिका चूर्ण.        ::::: ५०० मि.ग्रा से १ ग्रा

३.चितृक हरीतिकी     ::::: ५ से १५ ग्रा.

४.कट्फल चूर्ण.        ::::: नस्यार्थ


#73.गलगण्ड़ :::::


१.कांचनार गुग्गल.     ::::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्राम


#74.मुखरोग :::::


१.पीतक चूर्ण           ::::: गण्डूषार्थ

२.शुद्ध सौभाग्य        ::::: प्रतिसारणार्थ

३.इरिमेदादि तेल.      ::::: मुखलेपार्थ

४.बृहत्यादि क्वाथ.    ::::: गण्डूषार्थ



#75.दंत रोग :::::


१.दशनसंस्कार चूर्ण.      ::::: मंजनार्थ


#76.पुरूष प्रजनन अक्षमता :::::


१.जुन्द वदस्तर वटी      ::::: २ से ४ वटी

२.पुष्प धन्वा रस.          ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.


#77.स्त्री प्रजनन अक्षमता :::::


१.जियापोता चूर्ण.            :::::  ५ से १५ ग्राम

२.शिवलिंगी बीज.            ::::: ३ बीज प्रतिदिन २८ दिन तक



#78.परिवार नियोजक :::::


१.पिप्पल्यादि योग.          ::::: २ से ४ ग्राम

२.नीम तेल.                    ::::: २ से ५ मि.ली.

#79.दुर्बलता :::::


१.द्राक्षासव                   ::::: १५ से ३० मि.ली.

२.शुद्ध शिलाजित.        ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

३.फलासव.                 ::::: १० से ३० मि.ली.

४.ताप्यादि लौह.          ::::: २५० से ५०० मि.ग्रा.


#80.मधुमेह :::::


१.त्रिवंग भस्म.            ::::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.वसंत कुसमाकर रस ::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

३.निशा कतकादि क्वाथ ::: १० से ३० मि.ली.

४.न्यग्रोधादि चूर्ण.          ::: ५ से १५ ग्राम

५.जाम्बवाघरिष्ट             ::: १० से ३० मि.ली.

६.अयस्कृति                  ::: १० से ३० मि.ली.


#81.मोटापा :::::


१.मेदोहर चूर्ण.          ::::: ५ से १५ ग्राम

२.मेदोहर विडंगादि लौह ::: १ से २ ग्राम

३.नवक गुग्गल.             ::: २ से ४ गोली

४.त्रिफला चूर्ण.              ::: ५ से १५ ग्राम


#82.शोथ :::::


१.रास्नैरण्डादि क्वाथ.    ::: १० से २० मि.ली.

२.शिग्नु वरूण क्वाथ.    ::: १० से २० मि.ली.

३.गोमूत्रार्क                   ::: ५ से २० मि.ली.

४.कंसहरीतकी              ::: ५ से १० ग्राम

५.शोथ कालानल रस.   ::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

६.ग्रहधूमादि लेप.         :::: लेपनार्थ

७.कोकिलाक्षक कषाय  ::: १० से २० मि.ली.


#83.श्लीपदहर :::::


१.नित्यानंद रस.         ::: २५० से ५०० मि.ग्रा.

२.शाखोटक क्वाथ      ::: २० से ४० मि.ली.

३.सप्तपर्ण घन वटी     ::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा.


#84.जीवाणु उपसर्ग :::::


१.रसांजन वटी          ::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा.

२.शुद्ध गंधक.           ::: २५० से ५०० मि ग्रा

३.निम्बादि तेल.        ::: स्थानिक प्रयोगार्थ

३.निम्बादि वटी        ::: ५०० मि.ग्रा. से १ ग्रा.

४.जया वटी             ::: २५० से ५०० मि.ग्रा


#85.बाल रोग :::::


१.दन्तोदभेदगदान्तक रस    ::: १२५ से २५० मि.ग्रा.

२.बालार्क रस                    ::: ६२ से १२५ मिग्रा

३.कुमार कल्याण रस.         ::: ६२ से १२५ मिग्रा

४.बालचतुर्भद्रा चूर्ण.           ::: २५० से १ ग्रा.

५.रस पीपरी                      ::: १२५ से २५० मिग्रा

६.गोपीचन्दनादि गुटिका      ::: १२५ से २५० मि ग्रा

७.ताम्बुल लेह.                    ::: २ से ५ ग्राम

८.शंखपुष्पी   तेल                ::: सिर पर अभ्यंगार्थ

९.अरविंदासव.                    ::: ५ से १५ मि.ली.

१०.कमल बीज गट्टा चूर्ण.     ::: १ से ३ ग्रा

११.शुद्ध वचा चूर्ण.              ::: ५० से १०० मि.ग्रा.

१२.जातीफल चूर्ण.             ::: २५० से ५०० मि ग्रा

१३.लाक्षादि तेल.               ::: अभ्यंगार्थ

१४.बाल रसायन.               ::: २५० से ७५० मि.ग्रा

१५.अर्क पुदीना                 ::: ५ से १५ बूंद


# बहुपयोगी भस्म :::::


१.स्वर्ण माक्षिक भस्म ::::

पाण्डु,शीतपित्त,अम्लपित्त,रसायन

२.शुद्ध स्फाटिका भस्म :::::

रक्तस्त्राव,कास,ज्वर, जीवाणु प्रतिरोधक

३.टंकण भस्म :::::

कास,तुण्डीकेरीशोथ,ज्वर

४.शंख भस्म :::::

पाचन विकार

५.कपर्दिका भस्म :::::

कर्णशूल,व्रणरोपक,आंत्रशूल

६.मण्डूर भस्म :::::

पाण्डु,कामला,शोध

७.लौह भस्म ३० पुटी :::::

पाण्डु,दौर्बल्य,गर्भावस्था

८.मयूरपिच्छ भस्म :::::

हिक्का,दुष्टकास,छर्दि

९.गोदन्ती भस्म :::::

कास,प्रतिश्याय,ज्वर, सर्वांगवेदना

१०.श्रंग भस्म :::::

ज्वर, नासाविवरशोथ,श्वसनिका शोथ,फुफ्फसफुफ्फस प्रदाह

११.अभ्रक भस्म ::::::

अम्लपित्त,पाण्डु,श्वसन रोग

# आकस्मिक चिकित्सा की औषधियाँ ::::


१.कर्पूर रस :::::

तीव्र अतिसार

२. वेदनांतक रस :::::

कोष्ठ या मांसपेशी व अस्थिगत वेदना

३.सिद्धमकरध्वज :::::

रक्तवह संस्थान विकृतजन्य मूर्च्छा

४.जवाहरमोहरा पिष्टी :::::

ह्रदद्रव,मूर्च्छा,ह्रददौर्बल्य

५.मुक्तापिष्टी :::::

ह्रदगततीव्रता,ह्रदय रोग, ह्रदद्रव


६.महावात राज रस ::::::

नाडीतन्त्र विकृतजन्य मूर्च्छा,ह्रदय शूल

७.समीर गज केशरी रस :::::

नाडीपेशीगत वेदना

८.श्वास कास चिंतामणी रस ::::::

श्वास कष्ट,फुफ्फुसजन्य प्रदाह

९.स्वर्ण समीर पत्रंग रस :::::

उग्र श्वासकष्ट ,संधि वेदना

१०.मृत संजीवनी सुरा :::::

तीव्र ज्वर, प्रलाप,मोह मूर्च्छा

११.धान्वंतर गुटिका :::::

उग्र श्वास काठिन्य

१२.मानस मित्र वटक :::::

मानसिक विकार,अनिद्रा

१३.मर्म गुटिका :::::

मर्मागत शूल एँव शोध

१४.गोरोचनादि वटी :::::

ह्रदय एँव श्वसन संबधी कष्ट


१५.मूरिवन्नों तेल :::::

अभिघातज वेदना एँव शोथ के लिये स्थानिक प्रयोगार्थ

### बहुपयोगी औषधि सूची :::::


१.ब्राम्ही :::::

स्मृति एँव निद्रा विकार,अपस्मार

२.अर्जुन :::::

उच्च रक्तचाप, ह्रदय रोग,ह्रदधमनीसंगजन्य

३.अश्वगंधा :::::

रसायन, स्नायुदौर्बल्य,बाजीकरण,मनोद्वेगहर

४.सर्पगंधा :::::

उच्च रक्तचाप, अनिद्रा,मनोअशांति

५.हरीतिकी (हरड़) :::::

उदरविकार,रसायन, शोध,मेदोरोग,विबंध

६.हरिद्रा (हल्दी) :::::

तमक श्वास, एलर्जिक विकार, प्रमेह, त्वचा रोग

७.आंवला :::::

पाण्डु,कामला,रक्त पित्त, अम्ल पित्त,दाह

८.शुण्ठी :::::

उदर विकार, वाणी विकार

९.वचा :::::

स्मृति विकार, वाणी विकार,स्थोल्य

१०.गिलोय ::::

ज्वर, कामला,वातरक्त,रसायन,अम्ल पित्त

११.शतावरी :::::

बाजीकरण, स्तन्यजन्य,अपस्मार,मूत्रकच्छ

१२.अशोक :::::

असग्दृर,वातव्याधि,रजोनिवृत्तिजन्य लक्षण

१३.पिप्पली मूल:::::

विषम ज्वर, अर्श, उदर कृमि,अनिद्रा

१४.दाड़िम :::::

अतिसार,रक्तस्त्राव, पाण्डु,श्वेत प्रदर

१५.नीम :::::

शीतपित्त,ज्वर, चर्म रक्तार्श,आमाशयिक प्रदाह, विषमयता

१६.कम्पिल्लक :::::

उदरकृमि,विबंध

१७.पुष्करमूल :::::

ह्रदयशूल,पार्श्वशूल,श्वास, कास

१८.पुनर्नवा मूल :::::

मूत्ररोग,शोथ,नेत्र रोग

१९.वरूण :::::

विसर्प,ग्रन्थि, मूत्ररोग,मूत्रीष्ठिला

२०.गोक्षुर :::::

अश्मरी,मूत्रकच्छ,बाजीकरण,आभ्यंतर रक्तस्त्राव

२१.शिग्नु :::::

व्रणरोपक,पूयमय व्रण,अर्श, व्रण शोथ

२२.मुलेठी :::::

कास,अम्लपित्त,रक्तस्त्राव,व्रणरोपण

२३.यवानी (अजवाइन) :::::

शूल,आध्यमान,छर्दी,दीपन

२४.हींग (हिंगलु) :::::

दीपन,अजीर्ण,उदरशूल,दंतशूल

२५.दारूहिद्रा (रसौंत) :::::

यकृत विकार, नेत्र रोग,प्रवाहिका

२६.शताहवा (सोया) :::::

पाचक,अग्निदीपक,शोथनाशक (बाह्यप्रयोगार्थ)

२७.जातीफल :::::

बालरोग,अतिसार,उदरशूल,कास


साभार :::: भारत सरकार के औषधालयों एंव चिकित्सालयों के लिये आवश्यक आयुर्वैदिक औषधियों से)



















कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...