15_12

ALLERGIC RHINITIS IN Hindi

क्या हैं एलर्जिक रायनाइटिस--:


अस्थमा
 allergic rhinitis


Rhinitis allergy एक प्रकार की नाक की एलर्जी हैं.नाक साँस लेनें के अलावा हवा को फिल्टर करनें का काम भी करता हैं.जब बाहरी कण जैसे धूल,परागकण आदि नाक द्धारा शरीर में प्रवेश करतें हैं,तो राइनाइटिस एलर्जी का खतरा बढ़ जाता हैं.यह किसी भी मौसम में और उमृ में हो सकता हैं.


प्रकार-



यह दो प्रकार का होता हैं-



१.मौसमी -यह किसी विशेष मौसम में होता  हैं.



२.स्थाई- यह साल भर पीड़ित को अपनी चपेट में लेकर रखता हैं.मौसम बदलनें का इस पर कोई प्रभाव नहीं होता हैं,बल्कि किसी खास मौसम में यह और अधिक विकराल रूप धारण कर लेता हैं.



कारण-



१.परागकण


२.धूल,धुआँ,प्रदूषण,


३.नमी


४.जानवरों के बाल रेशे.


५.अचानक मौसम परिवर्तन.


६.डस्ट माइट्स



लछण::-



१.लगातार छींक आना.



२.सूंघनें की शक्ति कम होना.



३.लम्बें समय तक खाँसी ,गलें में खींच-खींच.


४.नाक से पानी बहना या बंद हो जाना.



५.साँस लेनें में तकलीफ.



६.गलें व आँखों में खुजली.



सावधानी::-



१.घर से निकलतें वक्त मास्क का प्रयोग करें.


२.घरों में फूलों वाले पौधे ना लगावें.


३.पालतू जानवर न रखें व इनसे दूरी बनाकर चलें.


४.परफ्यूम व अन्य सुगंधित पदार्थों का प्रयोग न करें.


५.नाक की नियमित रूप से सफाई करें.


उपचार-:


१.गर्म पेय पदार्थों का सेवन करें जैसें चाय,और मसालेदार चाय काढ़ा.

२.नाक में गोघ्रत को नियमित रूप से डालते रहें.

 अन्य औषधियों से संबधित उपचार के लियें वैघकीय परामर्श लें. ० तुलसी के बारें में जानें

Svyas845@gmail.com

कोई टिप्पणी नहीं: