मंगलवार, 28 जुलाई 2015

DR.ABUL PAKIR JANULLAUDDIN ABDUL KALAM

आयुर्वैद और योग मे गहन आस्था रखने वाले भारत माँ के लाड़ले स्वर्गीय डाँ.ए.पी.जे.कलाम को नम आँखों से नमन.

कोई टिप्पणी नहीं:

प्रदूषित होती नदिया(River) कही सभ्यताओं के अंत का संकेत तो नही

विश्व की तमाम सभ्यताएँ नदियों के किनारें पल्लवित हुई हैं,चाहे मेसोपोटोमिया हो या हड़प्पा यदि नदिया नही होती तो न ये सभ्यताएँ होती और ना ही...